आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स और इंडिया पोस्‍ट ने देश के हर कोने में ई-कॉमर्स डिलीवरीज को बढ़ावा देने के लिए साझेदारी की

0
274

इंडिया पोस्‍ट और आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स के बीच इस महत्‍वपूर्ण सहयोग का लक्ष्‍य भारत में डी2सी स्‍टार्टअप्‍स और एसएमबी की ई-कॉमर्स लास्‍ट-माइल डिलीवरी की क्षमता को बेहतर बनाने के लिये इंडिया पोस्‍ट की व्‍यापक पहुँच का लाभ उठाना है

Today Express news | Ajay Varma | 17 अक्‍टूबर, 2023: आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स, भारत के प्रमुख शिपिंग प्‍लेटफॉर्म्‍स में से एक और आधुनिक लॉजिस्टिक्‍स टेक्‍नोलॉजी के लिहाज से एक जानेमाने नाम, ने देश के प्रमुख पोस्‍टल नेटवर्क इंडिया पोस्‍ट के साथ साझेदारी की है। इस गठबंधन की मदद से टेक्‍नोलॉजी को शामिल किया जाएगा, जो लास्‍ट-माइल डिलीवरी के पूरे माहौल को नयापन देगी। इस रणनीतिक साझेदारी से भारत में डायरेक्‍ट-टू-कंज्‍यूमर (डी2सी) स्‍टार्टअप्‍स और स्‍मॉल एण्‍ड मीडियम बिजनेसेस (एसएमबी) को बड़ा फायदा होगा।

इस सहयोग के केन्‍द्र में डी2सी व्‍यवसायों को अपनी पहुँच शहरी केन्‍द्रों से आगे बढ़ाने के लिये मजबूत करने का साझा मिशन है। दूसरे और तीसरे दर्जे के शहरों में ई-कॉमर्स की पहुँच 2022 में शानदार तरीके से 21.4% और 41.5% रही है। मार्केटप्‍लेस की बड़ी कंपनियों, जैसे कि फ्लिपकार्ट, मिंत्रा और मीशो ने इन क्षेत्रों में मजबूती से पहुँच बनाई है, लेकिन स्‍वतंत्र ई-कॉमर्स ब्राण्‍ड्स अक्‍सर सीमित उपयोगिता की चुनौती का सामना करते हैं।

आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स की अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजी और इंडिया पोस्‍ट की व्‍यापक पहुँच का संयोजन सीधे इस चुनौती से निपटता है। देश के दूर-दूर के क्षेत्रों में भी इंडिया पोस्‍ट की बेमिसाल पहुँच को आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स की अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजी और बेहतरीन सेवाओं से मिलाकर लॉजिस्टिक्‍स ऑपरेशंस में एक बहुत बड़ा बदलाव होगा। यह दो महत्‍वपूर्ण घटक डी2सी कंपनियों के लिये मायने रखते हैं, ताकि वे आज के तेज गति वाले व्‍यावसायिक वातावरण में तरक्‍की कर सकें।

आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स की को-फाउंडर सुश्री ज़ैबा सारंग ने कहा, “हम इंडिया पोस्‍ट के साथ इस
बेहतरीन साझेदारी को लेकर वाकई उत्‍साहित हैं। हमारे बीच हुआ सहयोग आइडिया एवं इनोवेशन
का संयोजन करने का प्रतीक है, जिसमें हम इंडिया पोस्‍ट की व्‍यापक पहुँच एवं टेक्‍नोलॉजी की
शक्ति से डायरेक्‍ट-टू-कंज्‍यूमर स्‍टार्टअप्‍स और स्‍मॉल एंड मीडियम बिजनेसेस को लॉजिस्टिक

एक्‍सीलेंस के नये जमाने में बढ़ावा देंगे। इस गठजोड़ के साथ हम न सिर्फ भौगोलिक दूरियों को कम कर रहे हैं, बल्कि सभी आकार के बिजनेसेस को ई-कॉमर्स की पूरी क्षमता का फायदा उठाने के लिये मजबूत भी कर रहे हैं, जिससे कि उत्‍पादों का ग्राहकों तक पहुँचने का तरीका और ग्राहक अनुभव बदलेगा।” इस व्‍यवस्‍था का एक शानदार पहलू है इकोनॉमिक डिलीवरीज निर्मित करने की क्षमता, खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में, जहाँ का लॉजिस्टिक्‍स इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर कम विकसित है। इंडिया पोस्‍ट का अनुभव और व्‍यापक नेटवर्क आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स की तकनीकी क्षमताओं से बखूबी मेल खाता है और एफिशिएंसी, निर्भरता के साथ ही ग्राहकों की बेहतर संतुष्टि का वादा करता है। शिपमेंट्स का वॉल्‍यूम बढ़ने के साथ लॉजिस्टिकल से जुड़ी पूछताछ की संभावना भी बढ़ जाती है, जैसे कि ‘विस्‍मो (व्‍हेयर इज़ माय ऑर्डरᣛ?), जिससे खरीदारों को खरीदारी के बाद एंग्‍ज़ाइटी हो सकती है। इस लिहाज से आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स की अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजी महत्‍वपूर्ण है और कस्‍टमर सपोर्ट के लिये एक बेहतरी नजरिये को बढ़ावा देती है तथा खरीदारी के पूरे अनुभव को बेहतर बनाती है।

श्री अमिताभ सिंह, पीएमजी, मेल्‍स एवं बीडी, महाराष्‍ट्र पोस्‍टल सर्कल, इंडिया पोस्‍ट ने कहा, “बदलाव लाने की इस कोशिश में इंडिया पोस्‍ट को आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स के साथ साझेदारी करने पर बड़ा गर्व है। दशकों में निर्मित हमारी सेवा की विरासत आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स की आगे की सोच रखने वाली तकनीकी दक्षता से मिलकर लॉजिस्टिक्‍स उद्योग में एक नये युग की शुरूआत कर रही है। यह सहयोग परंपरा और इनोवेशन का संगम है और भारत में हर टचपॉइंट तक पहुँचने के नये रोमांचक अवसर देता है। देश के कोने-कोने में फैला हमारा राष्‍ट्रव्‍यापी नेटवर्क आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स के अत्‍याधुनिक समाधानों के बिल्‍कुल अनुकूल है।” इंडिया पोस्‍ट और आईथिंक लॉजिस्टिक्‍स के बीच यह गठबंधन एक यादगार सहयोग है, जोकि देश में लास्‍ट-माइल डिलीवरी के ऑपरेशंस को बेहतरीन बनाने के लिये दोनों संस्‍थाओं की ताकत का इस्‍तेमाल करता है। ज्‍यादा पहुँच, ऑपरेशनल एफिशिएंसी, और बेजोड़ ग्राहक अनुभवों पर ध्‍यान देने के साथ यह साझेदारी ईकॉमर्स के विकसित हो रहे माहौल में, डी2सी स्‍टार्टअप्‍स और एसएमबी की ग्रोथ को प्रेरित करने के लिये तैयार है।

LEAVE A REPLY