प्‍लस ने भारत में गहनों के खरीदारों के लिए विशेष तथा आकर्षक ऑफर्स के साथ एक नया बचत ऐप लॉन्‍च किया

0
197

~ यह प्लेटफॉर्म पूरे भारत के ज्वैलर्स, बचत योजनाओं और ऑफर्स को एक ही जगह पर लेकर आया है~

Today Express News | नई दिल्ली,14 सितंबर, 2023: गहनों की खरीदारी तथा बचत में आ रहे महत्वपूर्ण बदलाव को देखते हुए, भारत के ज्वैलरी सेविंग्‍स ऐप प्लस ने आज इसके मोबाइल एप्लीकेशन के लॉन्च की घोषणा की। यह ऐप आईओएस और एंड्रॉइड दोनों डिवाइस के लिए है। प्लस का प्लेटफॉर्म, भारतीय होममेकर्स को अपने गहनों की खरीदारी के लिए बचत करने में सशक्‍त करता है। वहीं, उन्हें अपनी खरीद पर 10% सालाना इंटर्नल रेट ऑफ रिटर्न (आईआरआर) कमाने का भी मौका मिलता है।

भारत सोने तथा गहनों का दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता बाजार है, जहां हर साल लगभग 30 करोड़ लोग सोना और अन्य प्रकार के आभूषण खरीदते हैं। इस बाजार में, विभिन्न ज्वैलर्स द्वारा चलाई जा रही निवेश योजनाओं के माध्यम से लगभग 20% गहनों की बिक्री होती है। फिर भी, गहनों के बचत बाजार का डिजिटलीकरण होना बाकी है और एकत्रीकरण की कमी, गहनों पर गुप्त मेकिंग चार्ज (15%-30%) जैसी अन्य चुनौतियां इसमें शामिल हैं। इसकी वजह से गहनों को निवेश के लिहाज से सही नहीं माना जाता। सोना तथा गहने, संपत्ति का सबसे बड़ा वर्ग होने के बावजूद, उपभोक्ताओं के लिए यह पूरा सफर ऑफलाइन है। अब प्लस अपने यूजर को बचत करने, 1000 से भी ज्यादा ज्वैलर्स को ढूंढने और अपनी ड्रीम ज्वैलरी खरीदने के लिए एक सिंगल ऐप प्रदान कर रहा है। 22 मई 2022 को राज पारख और वीर मिश्रा द्वारा स्थापित यह अनूठा मंच, यूजर्स को मासिक एसआईपी के रूप में 1000 रुपए से भी बचत शुरू करने का अवसर प्रदान कर रहा है। या फिर यूजर्स एक बार में ही अच्छी-खासी बचत कर सकते हैं। यूजर्स सालाना 10% आईआरआर कमा कर बचत में होने वाली बढ़ोतरी का भी आनंद ले सकते हैं। इसके साथ ही उपभोक्ताओं के पास बचत के अत्यधिक तरल होने का लाभ भी है, जिसे टी+2 दिनों की अवधि के अंदर भी निकाला जा सकता है।

वीर मिश्रा, फाउंडर, प्लस का कहना है, “हमें प्लस ऐप के लॉन्च की घोषणा करते हुए बेहद खुशी का अनुभव हो रहा है। यह भारत का क्रांतिकारी ज्‍वैलरी सेविंग्‍स प्‍लेटफॉर्म है। बेहतर मौकों के साथ, हमारा मंच यूजर्स को अपना गहना खरीदने, आसानी से 1000 से भी ज्यादा ज्वैलर्स को ढूंढने और अपनी अगली खरीद पर विशेष छूट पाने के मौके देता है। हमारे मंच पर सभी ग्राहकों को सादगी, पारदर्शिता और सुरक्षा मिलती है। यह भारतीय होममेकर्स के लिए ज्‍वैलरी सेविंग्‍स मार्केट को पूरी तरह बदल देगा। यही चीजें इस मंच को आसान, किफायती और सुविधाजनक बना रही हैं।”

इसके अलावा, प्लस ऐप पर यूजर्स ज्वैलर्स ढूंढ सकते हैं, सिंगल टैप पर विजिट बुक करा सकते हैं और गहनों की तुरंत खरीदी पर विशेष डिस्‍काउंट ऑफर्स भी प्राप्‍त कर सकते हैं। इसके साथ ही उनके प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हुए ऑफर की आसानी से खोज की जा सकती है। यूजर्स देश में किसी भी स्‍टोर पर 10% आईआरआर वाले अपने बचत बैलेंस के साथ खरीदारी भी कर सकते हैं। इसके अलावा, प्लस ऐप पर ज्वैलरी पार्टनर, त्योहारों के दौरान देशभर के उपभोक्ताओं को बेहद ही कम कीमतों पर सोने के सिक्के और बार्स की पेशकश करते हैं।

LEAVE A REPLY