सीएमजीजीए के परियोजना निदेशक ने सीएम विंडो से संबंधित कार्यों की प्रगति की जिलावार समीक्षा की

0
627
Project Director of CMGGA reviewed the progress of works related to CM Window district-wise

Today Express News / Ajay verma / पलवल, 21 दिसंबर। सीएमजीजीए के परियोजना निदेशक डा. राकेश गुप्ता ने सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से ई-ऑफिस, अंत्योदय सरल केंद्र, पीएनडीटी-एमटीपी-पोक्सो एक्ट, वन स्टॉप सेंटर तथा सीएम विंडो से संबंधित कार्यों की प्रगति की जिलावार समीक्षा की। उन्होंने जिला में इन योजनाओं के तहत किए गए कार्यों की प्रशंसा की। अतिरिक्त उपायुक्त सतेंद्र दूहन ने परियोजना निदेशक डा. राकेश गुप्ता को जानकारी दी कि जिला में जीरो बैच के सभी कार्यालयों में इलैक्ट्रोनिक सिस्टम से पत्र व्यवहार शुरू कर दिया गया है। ई-ऑफिस से संबंधित जिला में स्थित विभिन्न विभागों के कार्यालयों की ई-ऑफिस ट्रैनिंग करवा दी गई है। बैच वन व टू के कार्यालयों ने ई-ऑफिस पोर्टल पर पत्र व्यवहार शुरू कर दिया है।

जिन विभागों ने अभी ई-ऑफिस पोर्टल पर पत्र व्यवहान शुरू नहीं किया है उन्हें बहुत जल्द ही इससे जोड़ दिया जाएगा। डा. राकेश गुप्ता ने कहा कि अंत्योदय सरल केंद्र के माध्यम से प्रदेश में विभिन्न विभागों के माध्यम से 449 जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ ऑनलाइन दिया जा रहा है, जिसकी सराहना पूरे देश में हुई है तथा राष्टï्रीय स्तर पर डिजीटल इंडिया कैटेगरी के तहत जल्द ही एक और पुरस्कार हरियाणा को मिलेगा। इसलिए अंत्योदय सरल केंद्र के माध्यम से सभी लाभपात्रों को समुचित व समयबद्ध लाभ दिया जाए। लाभपात्रों को लाभ देने में किसी भी प्रकार की देरी नहीं होनी चाहिए ताकि प्रत्येक जिले की रैंकिंग अच्छी बनी रहे। पीएनडीटी-एमटीपी-पोक्सो एक्ट के संबंध में सिविल सर्जन डा. ब्रह्मïदीप ने बताया कि पिछले दिनों दो रैड की गई। भविष्य में इन एक्ट के तहत जिला प्रशासन के विभिन्न विभागों के समन्वय के साथ संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी तथा किसी भी प्रकार की संभावना या संदिग्धता सामने आने पर तुरंत रैड की जाएगी। महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी मीनाक्षी चौधरी ने बताया कि जिला में वन स्टॉप सेंटर ठीक प्रकार से काम कर रहा है। इसी प्रकार सभी विभागों व जिला स्तर पर सरकारी कार्यालयों में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए लोकल कम्प्लेंट कमेटी तथा इंटरनल कम्प्लेंट कमेटियों का गठन किया जा रहा है और जल्द ही इसके सभी सदस्यों की ट्रेनिंग भी करवाई जाएगी।

LEAVE A REPLY