मजदूरों के पेट पर मारी लात , कंपनी के बाहर विरोध प्रदर्शन

0
884

कोरोना वैश्विक महामारी के कारण आर्थिक स्थिति से जूझ रहे मजदूरों को फरीदाबाद में बडा झटका लगा है, हरियाणा की सबसे बडी कंपनी जेसीबी ने करीब एक हजार लोगों को नोकरी से निकालने के नोटिस जारी कर दिये हैं, जिसको लेकर पिछले 10 दिनों से मजदूर कंपनी के बाहर 38 डिग्री सेल्सियस की भीषण गर्मी में धरने पर बैठे हैं, मजदूर बार बार नोकरी से निकाले जाने का कारण पूछ रहे हैं मगर कंपनी प्रबंधन मजदूरों से बात भी नहीं कर रहा है। फरीदाबाद में  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बार-बार आव्हान के बाद भी कंपनी प्रबंधक अपनी मनमानी करने से बाज नहीं आ रहे हैं।

चिलचिलाती हुई धूप में पसीने से तरबतर हाथों में विरोध और मांग स्वरूप पोस्टर लेकर प्रदर्शन करते हुए नजर आ रहे ये फरीदाबाद की जेसीबी कंपनी के मजदूर हैं जिन्हें कंपनी ने एक महीने का नोटिस थमा कर नोकरी से निकाल दिया है, मजदूर रोजाना कंपनी आते हैं प्रबंधन से कारण पूछते हैं मगर कोई जबाब नहीं मिल रहा है। मजदूरों की माने तो कंपनी बराबर चल रही है पिछले साथ की अपेक्षा लाॅकडाउन होने के बाबजूद भी कंपनी ने अच्छा प्रोडक्शन निकाला है उसके बाद भी प्रबंधन मंदी की दुहाई देकर मजदूरों को बाहर निकाल रहा है, जबकि सच तो ये है कि प्रबंधन कंपनी को जयपुर ले जा रहा है इसलिये करीब एक हजार कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

38 डिग्री सेल्सियस की भीषण गर्मी में धरने पर बैठकर अपना रोजगार वापिस मांगने की दुहाई दे रहे मजदूरों का कहना है कि पिछले कई सालों से वह कंपनी में कार्यरत हैं, ऐसे समय में कंपनी साथ छोड रही है अगर नोकरी नहीं रहेगी तो हजारों परिवारों के भूखे मरने की नौबत आ जायेगी, उन्हें आने वाले 6 महीने तक भी कोई रोजगार मिलने की उम्मीद भी नहीं है, सरकार से अपील है कि उनका रोजगार बचाया जाये।

LEAVE A REPLY