औद्योगिक इकाईयों मेें फिर लौटेगी रौनक, प्रवासी मजदूर न करें पलायन : राजीव जेटली

0
856

Today Express News / Report / Ajay verma / फरीदाबाद। भाजपा के प्रवक्ता राजीव जेटली ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी से बिगड़ी देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए 20 लाख करोड़ के जिस पैकेज की घोषणा की है, उससे हमारी अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी साथ ही साथ देश के औद्योगिक संगठनों को भी नई ऊर्जा मिलेगी। श्री जेटली ने कहा कि जहां पूरा विश्व कोरोना महामारी से त्रस्त है, ऐसे में प्रधानमंत्री के मजबूत फैसलों ने देश को इस महामारी से काफी हद तक बचाया है और अब उन्होंने अर्थव्यवस्था को सुदृढ करने की दिशा में कदम उठाने शुरू कर दिए है, जिससे भारत पुन: उन्नत देशों की श्रेणी में शिखर पर पहुंच जाएगा।

श्री जेटली आज ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर प्रवासी मजदूरों को केंद्र व प्रदेश सरकार की नीतियों के बारे में जागरूक कर रहे थे। इस दौरान जेटली ने अपने घरों को जाने वाले मजदूरों को न जाने की सलाह देते हुए कहा कि परिस्थितियां जल्द ही अनुकूल होंगी और फिर से जन-जीवन पटरी पर लौटेगा। उन्होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकारें मिलकर कोरोना महामारी से मुकाबला कर रही है और जान को बचाने के बाद अब सरकारें जहान को भी बचाने में जुट गई है इसलिए मजदूरों को भी संयम रखना चाहिए और अपने घरों को जाने की बजाए कुछ इंतजार करना चाहिए।

राजीव जेटली ने कहा कि आज पूरा विश्व कोरोना महामारी के चलते त्राहि-त्राहि कर रहा है, फिर भी भारत की स्थिति अन्य देशों के मुकाबले काफी बेहतर है और इसका श्रेय हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है, जिन्हें समय पर लॉकडाउन का फैसला करके इस बीमारी की चेन को तोडऩे का काम किया है, इसलिए हमारा दायित्व भी बनता है कि संकट के इस दौर में सरकारें के निर्देशों का पालन करें।

राजीव जेटली ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश के अधिकांश उद्योगों को सोशल डिस्टेंसिंग के अलावा अन्य सावधानियां अपनाते हुए चलाने की अनुमति दे दी है और धीरे-धीरे फिर से स्थिति सामान्य हो जाएगी। उन्होंने मजदूरों से कहा कि चाहे यूपी, बिहार या मध्यप्रदेश के मजदूर हो, इस विपत्ति के दौर में सरकारों ने उनके रहने व खाने का संपूर्ण इंतजामात किए है, ऐसे में उन्हें भी संयम रखना चाहिए और इस बीमारी से बचने के लिए सरकारों के निर्देशों का पालन करना चाहिए। अंत में उन्होंने मजदूरों से आह्वान किया कि उन्हें रोजगार भी मिलेगा और रहने-खाने पीने की समुचित व्यवस्था मिलेगी क्योंकि यही हरियाणा प्रदेश पहले की तरह उन्हें उन्नत बनाने का काम करेगा।

LEAVE A REPLY