चरण स्पर्श फाउंडेशन ने किया मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज में सडक़ सुरक्षा जागरूकता अभियान का आयोजन

0
256

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ / रिपोर्ट अजय वर्मा / हरियाणा। वीरवार 11 मई 2023 को मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज, फरीदाबाद में सडक़ परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (एमओआरटीएच), भारत सरकार द्वारा दिल्ली एनसीआर के छात्रों के लिए सडक़ सुरक्षा डिजिटल जागरूकता अभियान का आयोजन चरण स्पर्श फाउंडेशन के साथ किया गया। 6 अप्रैल से 12 मई 2023 तक इस अभियान का आयोजन किया जायेगा। आयोजन मे चरण स्पर्श की संस्थापक माया ठाकुर के साथ एसीपी यातायात श्री विनोद कुमार, एचपीएस, व्यवहार और सामाजिक विज्ञान संकाय के निदेशक डॉ. आनंदजीत गोस्वामी, डीन छात्र कल्याण, डॉ. गुरजीत कौर चावला, प्रोफेसर टीआर पीपलानी इडी आईसीई (आई) बाबू राम साइबर क्राइम सविता अधिकारी क्राइम अगेंस्ट वूमेन विनोद कुमार एसीपी ट्रैफिक पुलिस मौजूद रहे।
छात्रों को सम्भोदित करते हुए चरण स्पर्श फाउंडेशन की संस्थापक माया ठाकुर ने कहा कि भारत में सड़क दुर्घटनाएं 2021′ रिपोर्ट के अनुसार, 2021 के दौरान सड़क दुर्घटनाओं की 4,12,432 घटनाएं हुईं, जिसमें 1,53,972 लोगों की जान गई और 3,84,448 लोग घायल हुए।   माननीय केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, नितिन गडकरी की बात को आगे रखते हुए कहा कि 2025 के अंत से पहले सड़क दुर्घटनाओं को 50 प्रतिशत तक कम करने के लिए सभी हितधारकों द्वारा संयुक्त प्रयास आवश्यक होंगे।

दरअसल, सड़क सुरक्षा दुनिया भर में सबसे बड़े सार्वजनिक स्वास्थ्य बोझों में से एक है। सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDGs) से आंतरिक रूप से जुड़ा हुआ, सड़क सुरक्षा देश के विकास और समृद्धि के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि सड़क दुर्घटना से संबंधित चोटें मृत्यु, विकलांगता और अस्पताल में भर्ती होने के प्रमुख कारणों में से एक हैं, भारत जैसे विकासशील देशों के लिए गंभीर सामाजिक-आर्थिक लागत है ।

चरण स्पर्श फाउंडेशन टीम ने सवाल जवाब और नुक्कड़ नाटक के जरिए छात्रों को ट्रैफिक नियमों के प्रति जागरूक किया। इस ड्राइव का उद्देश्य छात्रों  (मोटर चालकों के साथ-साथ पैदल चलने वालों, साइकिल चालकों) को जागरूक बनाना है, सडक़ पर रहते हुए, यातायात उल्लंघन को कम करने, और वाहन चलाते समय हेलमेट और सीट बेल्ट पहनना, ड्रिंक एंड ड्राइव नहीं करना, निर्धारित गति सीमा के भीतर सुरक्षित रूप से ड्राइव करने , लेन अनुशासन का पालन करने, ड्राइविंग करते समय सिग्नल देना और मोबाइल फोन का उपयोग नहीं करना, वैध लाइसेंस  के साथ ड्राइव करना, आदि सब यातायात के नियमो का पालन करने के लिए प्रेरित करना है. छात्र प्रतिभागियों को विशेष उपहार दिए गए। अंत में इंस्टीटूट ऑडिटोरियम में सभी स्टूडेंट्स ने यातायात नियमों का पालन करने और सड़क सुरक्षा का पालन करने की शपथ ली।

दिल्ली और एनसीआर के छात्र चरण स्पर्श एप डाउनलोड करके डिजिटल सडक़ सुरक्षा क्विज में भाग ले सकते  है और ढेरो इनाम जीत सकते है। क्विज समिट  की अंतिम तिथि 12 मई 2023  है। परिणाम की घोषणा 14  मई 2023  को की जाएगी। जिसमें मेगा पुरस्कारों के विजेताओं की घोषणा की जाएगी और विजेता इन पुरस्कारों को विशेष रूप से आयोजित समारोह में प्राप्त कर सकेंगे

LEAVE A REPLY