हरियाणा को नशामुक्त बनाने के लिए धरपकड़ अभियान लगातार चलाये जा रहे है : डीजीपी मनोज यादव

0
1237
Alcohol-addicted Haryana Pradesh Manoj Yadav
Photo Social Media

Today Express News / Report / Ajay Verma / हरियाणा पुलिस ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के राज्य को नशामुक्त बनाने की सरकार की प्रतिबद्धता के अनुरूप, मादक पदार्थ तस्करों  की धरपकड़ के लिए चलाए जा रहेे अपने विशेष अभियान के तहत, वर्ष 2020 के  विगत छ: माह के दौरान 11.5 टन नशीला पदार्थ जब्त कर 1821 लोगों को नशा तस्करी और ड्रग्स रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया तथा मादक पदार्थ अधिनियम के तहत 1343 मामले दर्ज किए हैं।

पुलिस महानिदेशक मनोज यादव ने आज इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष जनवरी से जून के बीच कुल 11568 किलोग्राम 680 ग्राम मादक पदार्थ जब्त किया गया। उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस ने मादक पदार्थों की तस्करी को रोकने के लिए कई अहम कदम उठाए हैं, जिसमें ड्रग माफिया के बारे में जानकारी के आदान-प्रदान के लिए अंतर-राज्यीय सहयोग में वृद्धि करना शामिल है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने ड्रग के खतरे से लडऩे के लिए एक बहु-आयामी रणनीति पर काम किया, जिसके परिणामस्वरूप स्पेशल टास्क फोर्स सहित सभी फील्ड यूनिट ने नशा कारोबारियों द्वारा राज्य में नशा सप्लाई के लगभग सभी प्रकार के मंसूबों  पर पानी फेरा है।

नया ओरिजिनल कॉमेडी ‘Titoo – Har Jawaab Ka Sawaal hu’, 27 जुलाई से शुरू होगा, सिर्फ़ POGO पर!

पुलिस महानिदेशक  ने बताया कि इस अवधि में सर्वाधिक 8043.2 किलोग्राम चूरा पोस्त बरामद किया गया। इसी प्रकार, पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से 3150 किलोग्राम 96 ग्राम गांजा, 243 किलोग्राम 436 ग्राम अफीम, 102 किलो 946 ग्राम चरस/सुल्फा, 2 किलो 568 ग्राम स्मैक तथा 25 किलो 568 ग्राम हेरोइन भी जब्त की है। इसके अतिरिक्त, प्रतिबंधित दवाओं की श्रेणी में आने वाली 10 लाख 40 हजार से अधिक गोलियां , कैप्सूल, इंजेक्शन और सिरप  भी  बरामद किए।

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि पुलिस द्वारा नशे के खिलाफ समय-समय पर नियमितरूप से जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को नशीली दवाओं के दुरुपयोग बारे भी सतर्क किया जा रहा है।

नयी तकनीक से लैस कोरोना टेस्टिंग की दो मोबाइल वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया.

LEAVE A REPLY