पैन-इंडिया के असली ट्रेंडसेटर हैं रॉकस्टार डीएसपी!

0
136

टुडे  एक्सप्रेस न्यूज़। रिपोर्ट मोक्ष वर्मा। इंडियन म्यूजिक इंडस्ट्री में कुछ ही कलाकार रॉकस्टार डीएसपी जैसी क्षेत्रीय सीमाओं को पार करने में कामयाब रहे हैं। सीमाओं से परे होने के बावजूद डीएसपी ने ‘पैन इंडिया’ अपील का नेतृत्व किया इससे पहले कि यह एक चलन भी था। दशकों से उनके चार्टबस्टर्स ने भारत के सभी कोनों से दर्शकों का दिल जीतना जारी रखा है।

साल 2004 में फिल्म आर्या में रॉकस्टार डीएसपी की प्रतिभा आ अंटे अमलापुरम एक ऊर्जा से भरपूर डांस नंबर के साथ देखी गई थी। गाने की आकर्षक धुनों ने न केवल दक्षिण भारतीय दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया बल्कि उत्तर भारत में भी संगीत प्रेमियों को अपना दीवाना बनाया। इस गाने को 2012 की फिल्म मैक्सिमम के लिए हिंदी में बनाया गया था, जिसके कारण देशभर में इस गाने की लहर एक बार फिर से छा गई।

वर्ष 2009 में डीएसपी ने तेलुगु फिल्म आर्या 2 के रिंगा रिंगा के साथ एक बार फिर स्वर्ण पदक जीता। गाने की संक्रामक धून एक राष्ट्रीय सनसनी बन गई, जिसके कारण 2011 में सलमान खान की ब्लॉकबस्टर फिल्म रेडी से प्रतिष्ठित ढिंका चिका का निर्माण हुआ। उसी साल आई तमिल फिल्म विल्लू के फुट-टैपिंग नंबर डैडी मम्मी के साथ भी यात्रा जारी रही, जिसे 2015 की फिल्म भाग जॉनी के लिए हिंदी में भी बनाया गया था। यह गाना भी संगीत प्रेमियों के बीच गूंज उठा।

वर्तमान समय में तेजी से आगे बढ़ते हुए रॉकस्टार डीएसपी की संगीत यात्रा अखिल भारतीय स्तर पर दर्शकों का दिल जीतती जा रही है। इसके अतिरिक्त ब्लॉकबस्टर फिल्म पुष्पा के साउंडट्रैक ने ऊ अंटावा, श्रीवल्ली और सामी सामी जैसे ट्रैक के साथ वैश्विक संगीत प्रभाव पैदा करने की उनकी क्षमता को प्रदर्शित किया। अब डीएसपी के फैंस पुष्पा 2 और कंगुवा के अलावा उनके आगामी प्रोजेक्ट्स में उनके काम का उत्सुकता से इंतजार कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY