सोना चढ़ा तो बॉन्ड यील्ड कम हुई जबकि तेल में गिरावट जारी

0
590
Angel Broking
Angel Broking

Today Express News / Ajay Verma / ओपेक समूह ने आपूर्ति परिदृश्य पर समझौते पर पहुंचे बिना बैठक खत्म कर दी। इससे तेल की कीमतों में गिरावट आई और सोना ऊंचा बना हुआ है।

सोना

बुधवार को स्पॉट गोल्ड 0.37 फीसदी की तेजी के साथ 1803.4 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ। बेंचमार्क यूएस ट्रेजरी यील्ड में नरमी के कारण सर्राफा धातु में तेजी जारी है। कम बॉन्ड रिटर्न गोल्ड रखने की अवसर लागत को कम करता है; हालांकि, एक मजबूत डॉलर ने कीमतों को नियंत्रण में रखा।

पिछले महीने अमेरिकी फेडरल रिजर्व पॉलिसी मीटिंग के मिनट्स से संकेत मिले कि एसेट पर्चेज प्रोग्राम की अपेक्षा से अधिक तेजी से कम होने की संभावना है। बढ़ती मुद्रास्फीति की चिंताओं के बावजूद अपेक्षाकृत अधिक बेरोजगारी के आंकड़े अभी भी यूएस सेंट्रल बैंक के लिए प्रमुख चिंता का विषय बने हुए हैं।

डेल्टा वैरिएंट कोविड-19 मामलों की संख्या में वृद्धि ने प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में लॉकडाउन के विस्तार पर चिंताओं को जगा दिया जो आर्थिक सुधार को और पटरी से उतार सकता है। वायरस के तेजी से प्रसार ने तेज आर्थिक रिकवरी को प्रभावित किया और इससे सेफ हैवन असेट ऊपर चली गई। एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड

कच्चा तेल

मंगलवार को डब्ल्यूटीआई क्रूड की कीमत करीब 1.6 फीसदी गिरकर 72.2 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुई जबकि एमसीएक्स क्रूड की कीमत 1.9 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ 5392 रुपये प्रति बैरल पर बंद हुई। ओपेक समूह द्वारा आने वाले महीनों में उत्पादन के रुख पर कोई स्पष्टता नहीं होने के बाद तेल में गिरावट जारी रही।

तेल निर्यातक समूह ने सप्ताह की शुरुआत में तीन दिनों की बैठकों के बाद बातचीत बंद कर दिया था, क्योंकि निकट अवधि में सख्त आपूर्ति बाजार की वजह से तेल की कीमतें सप्ताह के शुरू में बढ़ीं। ओपेक समूह का वास्तविक नेता सऊदी अरब और यूएई में डील नहीं हो सकी, जिससे बढ़ती वैश्विक मांग को पूरा करने के लिए आपूर्ति बढ़ाने के समझौते पर समूह नहीं पहुंच सका। इसके अलावा, डेल्टा वैरिएंट के मामलों में वृद्धि के बाद एशिया, ऑस्ट्रेलिया और यूरोप में महामारी को रोकने के लिए कड़े प्रतिबंधों की चिंता ने कीमतों पर और दबाव डाला।

आधार धातु

एलएमई पर अधिकांश औद्योगिक धातुओं में कल के सत्र में गिरावट दर्ज की गई। एमसीएक्स पर बेस मेटल्स भी अंतरराष्ट्रीय कीमतों के अनुरूप कारोबार कर रहे हैं, जिसमें निकेल और कॉपर सबसे ज्यादा बढ़त के साथ कारोबार कर रहे हैं।

चीन के स्टेट रिजर्व मेटल ऑक्शन के पहले दौर के सफल होने के बाद चीन के नेशनल फूड एंड स्ट्रैटेजिक रिजर्व्स एडमिनिस्ट्रेशन ने कमोडिटी की कीमतों को कम करने के प्रयास में आने वाले समय में इन्वेंटरी जारी करने की घोषणा की।

5 जुलाई’21 को धातु की नीलामी, जिसमें 1 लाख टन कॉपर, एल्युमिनियम और जिंक की पेशकश की गई थी, बिक्री के लिए आवंटित दो दिनों में से पहले दिन संपन्न हुई।

औद्योगिक धातुओं की वैश्विक आपूर्ति में वृद्धि और प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में डेल्टा वैरिएंट के तेज प्रसार की संभावनाएं निवेशकों को सतर्क कर सकती हैं।

तांबा

कल एलएमई कॉपर 1.54 प्रतिशत की तेजी के साथ 9455.0 डॉलर प्रति टन पर बंद हुआ, जबकि चीन ने आगामी नीलामियों में धातु की बिक्री बढ़ाने की कसम खाई थी।सोना चढ़ा तो बॉन्ड यील्ड कम हुई जबकि तेल में गिरावट जारी

ओपेक समूह ने आपूर्ति परिदृश्य पर समझौते पर पहुंचे बिना बैठक खत्म कर दी। इससे तेल की कीमतों में गिरावट आई और सोना ऊंचा बना हुआ है।

सोना

बुधवार को स्पॉट गोल्ड 0.37 फीसदी की तेजी के साथ 1803.4 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ। बेंचमार्क यूएस ट्रेजरी यील्ड में नरमी के कारण सर्राफा धातु में तेजी जारी है। कम बॉन्ड रिटर्न गोल्ड रखने की अवसर लागत को कम करता है; हालांकि, एक मजबूत डॉलर ने कीमतों को नियंत्रण में रखा।

पिछले महीने अमेरिकी फेडरल रिजर्व पॉलिसी मीटिंग के मिनट्स से संकेत मिले कि एसेट पर्चेज प्रोग्राम की अपेक्षा से अधिक तेजी से कम होने की संभावना है। बढ़ती मुद्रास्फीति की चिंताओं के बावजूद अपेक्षाकृत अधिक बेरोजगारी के आंकड़े अभी भी यूएस सेंट्रल बैंक के लिए प्रमुख चिंता का विषय बने हुए हैं।

डेल्टा वैरिएंट कोविड-19 मामलों की संख्या में वृद्धि ने प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में लॉकडाउन के विस्तार पर चिंताओं को जगा दिया जो आर्थिक सुधार को और पटरी से उतार सकता है। वायरस के तेजी से प्रसार ने तेज आर्थिक रिकवरी को प्रभावित किया और इससे सेफ हैवन असेट ऊपर चली गई। एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड

कच्चा तेल

मंगलवार को डब्ल्यूटीआई क्रूड की कीमत करीब 1.6 फीसदी गिरकर 72.2 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुई जबकि एमसीएक्स क्रूड की कीमत 1.9 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ 5392 रुपये प्रति बैरल पर बंद हुई। ओपेक समूह द्वारा आने वाले महीनों में उत्पादन के रुख पर कोई स्पष्टता नहीं होने के बाद तेल में गिरावट जारी रही।

तेल निर्यातक समूह ने सप्ताह की शुरुआत में तीन दिनों की बैठकों के बाद बातचीत बंद कर दिया था, क्योंकि निकट अवधि में सख्त आपूर्ति बाजार की वजह से तेल की कीमतें सप्ताह के शुरू में बढ़ीं। ओपेक समूह का वास्तविक नेता सऊदी अरब और यूएई में डील नहीं हो सकी, जिससे बढ़ती वैश्विक मांग को पूरा करने के लिए आपूर्ति बढ़ाने के समझौते पर समूह नहीं पहुंच सका। इसके अलावा, डेल्टा वैरिएंट के मामलों में वृद्धि के बाद एशिया, ऑस्ट्रेलिया और यूरोप में महामारी को रोकने के लिए कड़े प्रतिबंधों की चिंता ने कीमतों पर और दबाव डाला।

आधार धातु

एलएमई पर अधिकांश औद्योगिक धातुओं में कल के सत्र में गिरावट दर्ज की गई। एमसीएक्स पर बेस मेटल्स भी अंतरराष्ट्रीय कीमतों के अनुरूप कारोबार कर रहे हैं, जिसमें निकेल और कॉपर सबसे ज्यादा बढ़त के साथ कारोबार कर रहे हैं।

चीन के स्टेट रिजर्व मेटल ऑक्शन के पहले दौर के सफल होने के बाद चीन के नेशनल फूड एंड स्ट्रैटेजिक रिजर्व्स एडमिनिस्ट्रेशन ने कमोडिटी की कीमतों को कम करने के प्रयास में आने वाले समय में इन्वेंटरी जारी करने की घोषणा की।

5 जुलाई’21 को धातु की नीलामी, जिसमें 1 लाख टन कॉपर, एल्युमिनियम और जिंक की पेशकश की गई थी, बिक्री के लिए आवंटित दो दिनों में से पहले दिन संपन्न हुई।

औद्योगिक धातुओं की वैश्विक आपूर्ति में वृद्धि और प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में डेल्टा वैरिएंट के तेज प्रसार की संभावनाएं निवेशकों को सतर्क कर सकती हैं।

तांबा

कल एलएमई कॉपर 1.54 प्रतिशत की तेजी के साथ 9455.0 डॉलर प्रति टन पर बंद हुआ, जबकि चीन ने आगामी नीलामियों में धातु की बिक्री बढ़ाने की कसम खाई थी।सोना चढ़ा तो बॉन्ड यील्ड कम हुई जबकि तेल में गिरावट जारी

ओपेक समूह ने आपूर्ति परिदृश्य पर समझौते पर पहुंचे बिना बैठक खत्म कर दी। इससे तेल की कीमतों में गिरावट आई और सोना ऊंचा बना हुआ है।

सोना

बुधवार को स्पॉट गोल्ड 0.37 फीसदी की तेजी के साथ 1803.4 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ। बेंचमार्क यूएस ट्रेजरी यील्ड में नरमी के कारण सर्राफा धातु में तेजी जारी है। कम बॉन्ड रिटर्न गोल्ड रखने की अवसर लागत को कम करता है; हालांकि, एक मजबूत डॉलर ने कीमतों को नियंत्रण में रखा।

पिछले महीने अमेरिकी फेडरल रिजर्व पॉलिसी मीटिंग के मिनट्स से संकेत मिले कि एसेट पर्चेज प्रोग्राम की अपेक्षा से अधिक तेजी से कम होने की संभावना है। बढ़ती मुद्रास्फीति की चिंताओं के बावजूद अपेक्षाकृत अधिक बेरोजगारी के आंकड़े अभी भी यूएस सेंट्रल बैंक के लिए प्रमुख चिंता का विषय बने हुए हैं।

डेल्टा वैरिएंट कोविड-19 मामलों की संख्या में वृद्धि ने प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में लॉकडाउन के विस्तार पर चिंताओं को जगा दिया जो आर्थिक सुधार को और पटरी से उतार सकता है। वायरस के तेजी से प्रसार ने तेज आर्थिक रिकवरी को प्रभावित किया और इससे सेफ हैवन असेट ऊपर चली गई। एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड

कच्चा तेल

मंगलवार को डब्ल्यूटीआई क्रूड की कीमत करीब 1.6 फीसदी गिरकर 72.2 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुई जबकि एमसीएक्स क्रूड की कीमत 1.9 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ 5392 रुपये प्रति बैरल पर बंद हुई। ओपेक समूह द्वारा आने वाले महीनों में उत्पादन के रुख पर कोई स्पष्टता नहीं होने के बाद तेल में गिरावट जारी रही।

तेल निर्यातक समूह ने सप्ताह की शुरुआत में तीन दिनों की बैठकों के बाद बातचीत बंद कर दिया था, क्योंकि निकट अवधि में सख्त आपूर्ति बाजार की वजह से तेल की कीमतें सप्ताह के शुरू में बढ़ीं। ओपेक समूह का वास्तविक नेता सऊदी अरब और यूएई में डील नहीं हो सकी, जिससे बढ़ती वैश्विक मांग को पूरा करने के लिए आपूर्ति बढ़ाने के समझौते पर समूह नहीं पहुंच सका। इसके अलावा, डेल्टा वैरिएंट के मामलों में वृद्धि के बाद एशिया, ऑस्ट्रेलिया और यूरोप में महामारी को रोकने के लिए कड़े प्रतिबंधों की चिंता ने कीमतों पर और दबाव डाला।

आधार धातु

एलएमई पर अधिकांश औद्योगिक धातुओं में कल के सत्र में गिरावट दर्ज की गई। एमसीएक्स पर बेस मेटल्स भी अंतरराष्ट्रीय कीमतों के अनुरूप कारोबार कर रहे हैं, जिसमें निकेल और कॉपर सबसे ज्यादा बढ़त के साथ कारोबार कर रहे हैं।

चीन के स्टेट रिजर्व मेटल ऑक्शन के पहले दौर के सफल होने के बाद चीन के नेशनल फूड एंड स्ट्रैटेजिक रिजर्व्स एडमिनिस्ट्रेशन ने कमोडिटी की कीमतों को कम करने के प्रयास में आने वाले समय में इन्वेंटरी जारी करने की घोषणा की।

5 जुलाई’21 को धातु की नीलामी, जिसमें 1 लाख टन कॉपर, एल्युमिनियम और जिंक की पेशकश की गई थी, बिक्री के लिए आवंटित दो दिनों में से पहले दिन संपन्न हुई।

औद्योगिक धातुओं की वैश्विक आपूर्ति में वृद्धि और प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में डेल्टा वैरिएंट के तेज प्रसार की संभावनाएं निवेशकों को सतर्क कर सकती हैं।

तांबा

कल एलएमई कॉपर 1.54 प्रतिशत की तेजी के साथ 9455.0 डॉलर प्रति टन पर बंद हुआ, जबकि चीन ने आगामी नीलामियों में धातु की बिक्री बढ़ाने की कसम खाई थी।

LEAVE A REPLY