समाज और देश अपने इतिहास और संस्कारों को भूल जाते हैं तो उनका पतन शुरू हो जाता: चौटाला

0
405
If society and country forget their history and values, their downfall would have started Chautala

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ / रिपोर्ट / अजय वर्मा / फरीदाबाद,  27 दिसम्बर। जाट उत्थान समिति फरीदाबाद द्वारा महाराजा सूरजमल बलिदान दिवस एवं परिवार मिलन समारोह का आयोजन  सामुदायिक भवन सैक्टर 37 में किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में इनेलो सुप्रीमो एवं पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला में शिरकत की।

इस मौके पर जाट उत्थान समिति फरीदाबाद के अध्यक्ष एडवोकेट डी आर चौधरी ने मुख्य अतिथि व आए हुए सभी अतिथियों का पगड़ी बांधकर व माला पहनाकर स्वागत किया। विशिष्ट अतिथियों में पूर्व विधायक केहर सिंह रावत, बलबीर सिंह ऐडवोकेट, कृष्ण जाखड, श्याम सिंह, देवेन्द्र सिंह तेवतिया, रमेश चौधरी, सूरजमल, फौरन सिंहए रामरतन नरवत आदि थे।

उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने कहा कि महाराजा सूरजमल प्रखर बुद्धि मान और बलशाली थे। हमें अपने इतिहास को हमेशा याद रखना चाहिए जो समाज और देश अपने इतिहास और संस्कारों को भूल जाते हैं तो उनका पतन शुरू हो जाता है देश और समाज के लिए अपने प्राणों का बलिदान करने वाले ऐसे महान पुरुषों से हमें प्रेरणा मिलती है और हमें गर्व है कि हमने ऐसे महान पुरुषों की धरती पर जन्म लिया है। इससे पूर्व श्री चौटाला सहित सभी अतिथियों ने महाराजा सूरजमल के चित्र पर पुष्प अर्पित भी किए।

If society and country forget their history and values, their downfall would have started Chautalaसंस्था के अध्यक्ष एडवोकेट डीआर चौधरी ने कहा कि समारोह का मुख्य उद्देश्य जाट समाज के उत्थान के लिऐ आपसी सहयोग, बच्चों को अच्छी शिक्षा, कुरीतियों को दूर करना अन्य समाजों के साथ भाईचारा, राजनीतिक भागीदारी को बढ़ाना तथा देश के चहुॅमुखी विकास में जाट समाज का अहम योगदान पर विस्तार से चर्चा हुई। समारोह में मुख्य रूप से आयोजक सर्व श्री डी आर चौधरी, भोपाल सिंह, सतबीर पहलवान, बी पी दहिया, लाखन सिंह, रनबीर पूनिया, अशोक सहरावत, ललित सोलंकी, केसरी, आमोद, अरविन्द, नेमीचंद आदि थे।

LEAVE A REPLY