मानव रचना में ग्रीन फिएस्टा का आयोजन, अपशिष्ट प्रबंधन के निदान सुझाए

0
147

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ । रिपोर्ट अजय वर्मा । फरीदाबाद | मानव रचना विश्वविद्यालय में स्कूल ऑफ एजुकेशन एंड ह्यूमैनिटीज और स्कूल ऑफ साइंसेज की ओर से पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (एमओईएफसीसी) के खतरनाक अपशिष्ट प्रबंधन प्रभाग (एचएसएमडी) के साथ मिलकर दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी ‘ग्रीन फिएस्टा-2’ का आयोजन किया गया। ठोस अपशिष्ट प्रबंधन विषय पर आयोजित हुई इस संगोष्ठी में पर्यावरण संरक्षण और सतत विकास को लेकर वक्ताओं ने विचार रखे।

कार्यक्रम के तहत विश्वविद्यालय और स्कूली छात्रों ने जहां विभिन्न प्रतियोगिताओं में दमखम दिखाया। वहीं पैनल चर्चा भी आयोजित हुई, जिसमें वक्ताओं ने संबंधित विषयों पर विचार रखे। इस दौरान बतौर सम्मानित वक्ता पर्यावरण संवेदनशील क्षेत्र और पर्यावरण स्वास्थ्य (एमओईएफसीसी) की संयुक्त निदेशक डॉ. वीनू जून, संयुक्त निदेशक सीपी और एचएसएमडी (एमओईएफसीसी) श्री एन. सुब्रमण्यम, ग्राफिक आर्टिस्ट और कम्यूनिकेशन स्पेशलिस्ट श्री आनंद बनर्जी और लेखक व सलाहकार जेएम एनवायरोनेट प्राइवेट लिमिटेड श्री हिमांशु तिलवांकर ने संबोधित किया।

कार्यक्रम के दौरान तकनीकी पोस्टर प्रेजेंटेशन, वर्किंग मॉडल प्रेजेंटेशन, कैरिकेचर मेकिंग, ऑन-द-स्पॉट पर्यावरण प्रश्नोत्तरी जैसी प्रतियोगिताएं हुईं, जिनमें दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न स्कूल व उच्च शिक्षण संस्थानों से तकरीबन 250 छात्रों ने भाग लेकर प्रतिभा का परिचय दिया। सभी प्रतियोगिताओं में विजेताओं को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में मिशन लाइफ की थीम पर एक सेल्फी पॉइंट भी बनाया गया था जहां छात्रों ने पर्यावरण संरक्षण का संकल्प लेते हुए सेल्फी खिचाईं। राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। इस दौरान सभी छात्रों को पर्यावरण सहेजने की शपथ भी दिलाई गई।

LEAVE A REPLY