क्विक हील टेक्‍नोलॉजीज, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सेफ्टी इंस्टीट्यूट कंसोर्टियम के कंसोर्टियम मेंबर के रूप में सूचीबद्ध हुई, एआई सुरक्षा में सबसे आगे

0
118

● कंसोर्टियम का हिस्सा बनने वाली भारत की अकेली साइबरसुरक्षा पर केंद्रित फर्म

● एनआईएसटी-एनसीसीओई के डेटा क्लीसीफिकेशन प्रोजेक्ट पर हालिया सहयोग के बाद क्विक हील की दूसरी प्रमुख वैश्विक उपलब्धि

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ | 18 अप्रैल 2024: साइबरसिक्योरिटी समाधानों की वैश्विक प्रदाता क्विक हील टेक्‍नोलॉजीज लिमिटेड ने यूएस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सेफ्टी इंस्टीट्यूट कंसोर्टियम (AISIC) की सदस्यता हासिल कर ली है। यूएस एआईएसआईसी (यूएस एआईएसआईसी), एआइ सिक्योरिटी और विश्वसनीयता को आगे बढ़ाने के लिए समर्पित एक महत्वपूर्ण संगठन है। क्विक हील यह उपलब्धि हासिल करने वाली भारत की अकेली साइबर सिक्योरिटी-फोकस्ड फर्म है। क्विक हील की यह उपलब्धि देश के साइबर सिक्योरिटी इकोसिस्टम की मजबूती के लिए एक बड़ा कदम है। डेटा क्लासिफिकेशन के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्टैंडर्ड्स एंड टेक्नोलॉजी (एनआईएसटी) नेशनल साइबर सिक्योरिटी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस (एनसीसीओई) के साथ अपने हाल के सहयोग के बाद, यूएस एआईएसआईसी में क्विक हील की सदस्यता एआई अपनाने को बढ़ावा देने के लिए कंपनी की प्रतिबद्धता का प्रतीक है। कंपनी अपने सेक्राइट ब्रांड और इस क्षेत्र में अपनी तीन दशक लंबी विशेषज्ञता के दम पर अत्याधुनिक एंटरप्राइज साइबर सिक्योरिटी सॉल्यूशन उपलब्ध कराने के लिए पहचानी जाती है।

यूएस एआईएसआईसी, एआई सिस्टम्स के मूल्यांकन के लिए नए तरीकों को विकसित करने वाली एक बड़ी कंपनी है। इसका लक्ष्य इस तेजी से विकसित हो रही टेक्नोलॉजी की सिक्योरिटी और विश्वसनीयता को बढ़ाना है। भारत की सबसे बड़ी मैलवेयर एनालिसिस फैसिलिटी, सेक्राइट लैब्स और अनुसंधान एवं विकास पर फोकस के साथ, क्विक हील टेक्‍नोलॉजीज लिमिटेड एआईएसआईसी में पांच कार्य समूहों में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए तैयार है। ये कार्य समूह हैं जेनरेटिव एआई के लिए रिस्क मैनेजमेंट, सिंथेटिक कॉन्टेंट, एआई कैपेबिलिटी इवैल्यूएशन, एआई रेड टीमिंग और सेफ्टी एंड सिक्‍योरिटी।

क्विक हील टेक्नोलॉजीज लिमिटेड के एमडी डॉ. कैलाश काटकर ने कहा, “यूएस एआईएसआईसी के साथ सहयोग एक बड़ी रणनीतिक उपलब्धि है। यह भारत के साइबर सिक्योरिटी इकोसिस्टम की परिपक्‍वता और ग्लोबल प्लेटफार्म पर इसकी मजबूत पहचान को प्रदर्शित करता है। एआई एक दोधारी तलवार है जो अपार संभावनाएं और बड़ी चुनौतियां दोनों एक साथ लेकर आती है। साइबर सिक्योरिटी के क्षेत्र में नेतृत्‍व करना एक सम्मान और जिम्मेदारी दोनों है। सेक्राइट लैब्स के सहयोग से क्विक हील और सेक्राइट, कंसोर्टियम के एजेंडे में योगदान करने के लिए तैयार हैं। हमारी टीम के अथक प्रयासों के लिए उनको धन्यवाद। हम वैश्विक स्तर पर एआई सुरक्षा की प्रगति में सार्थक योगदान देने के लिए तैयार हैं।

इस मामले पर अपनी बात रखते हुए, क्विक हील टेक्‍नोलॉजीज लिमिटेड के सीईओ विशाल साल्वी ने कहा, “रिस्पॉन्सिबल एआई की सीमा को आगे बढ़ाने में यूएस एआईएसआईसी के साथ सहयोग करना हमारे लिए सम्मान की बात है। क्विक हील और हमारा एंटरप्राइज साइबर सिक्योरिटी ब्रांड, सेक्राइट एक ऐसे भविष्य को बनाने के लिए समर्पित हैं जहां नई टेक्नोलॉजी सुरक्षा और जवाबदेही के साथ तरक्‍की करे। अपने स्वामित्व वाली GoDeep.AI तकनीक का फायदा उठाते हुए, क्विक हील में हम पहले से ही एआई को डिजिटल सुरक्षा के साथ जोड़ने में सबसे आगे रहे हैं। GoDeep.AI के साथ हमारा अनुभव एआई डोमेन में हमारी गहरी विशेषज्ञता को स्पष्ट करता है और कंसोर्टियम में एक महत्वपूर्ण सहयोगी के रूप में हमारी भूमिका को मजबूत करता है। अहम कार्य समूहों में सक्रिय रूप से योगदान देकर, हमारा लक्ष्य ग्लोबल मानकों और रूपरेखाओं को आकार देना और एक ऐसे एआई इकोसिस्टम की दिशा में आगे बढ़ना है जो न केवल मजबूत हो बल्कि विकसित होते ग्लोबल डिजिटल इकोसिस्टम के लिए सुरक्षित भी हो।

अमेरिकी वाणिज्य विभाग की एक पहल, इस कंसोर्टियम में 200 से ज्यादा सदस्य कंपनियां और संगठन शामिल हैं जो एआई सिस्टम के विकास और उपयोग में आगे हैं। इस कंसोर्टियम में सिविल सोसाइटी और अकादमिक टीमें भी शामिल हैं जो इस बात की मूलभूत समझ विकसित कर रही हैं कि एआई हमारे समाज को कैसे बदल सकता है और बदल देगा। आज राज्य और स्थानीय सरकारों के साथ-साथ गैर-लाभकारी संस्थाएं और एआई के इस्तेमाल में बड़ी भागीदारी वाले व्यवसायों के प्रतिनिधि भी कंसोर्टियम का हिस्सा हैं। एआईएसआईसी समान विचारधारा वाले देशों के संगठनों के साथ भी काम करने के लिए तैयार है जिनकी दुनिया भर में अंतर-संचालित और प्रभावी सुरक्षा स्थापित करने में बड़ी भूमिका है।

क्विक हील टेक्‍नोलॉजीज लिमिटेड को ग्लोबल साइबर सिक्योरिटी और एआई इंडस्ट्री के ऐसे हितधारकों के साथ जुड़ने पर गर्व है जो एआई क्षमताओं के मूल्यांकन और ऑडिटिंग के लिए गाइडलाइंस और बेंचमार्क बनाने में योगदान देते हैं। कंपनी पहले से ही अपनी सेल्फ-अवेयर मैलवेयर हंटिंग टेक्नोलॉजी, GoDeep.AI के जरिए साइबर सिक्योरिटी को मजबूत करने के लिए एआई का इस्तेमाल कर रही है। यह डीप लर्निंग, बिहैवियरल एनालिसिस और प्रिडिक्टिव एनालिसिस के संयोजन के जरिए रियल टाइम में साइबर खतरों की पहचान, विश्लेषण और अवरोध करती है। एक स्वाभाविक प्रगति के रूप में, एआईएसआईसी में क्विक हील टेक्नोलॉजीज लिमिटेड की भागीदारी एआई के भविष्य को सुरक्षित और जिम्मेदारी से आकार देने की कंपनी प्रतिबद्धता को मजबूत करती है।

LEAVE A REPLY